सोयाबीन के फायदे, नुकसान और उपयोग – Soybean Benefits, Side Effects & Uses

राजीव दीक्षित जैसे महान लोगों का कहना है कि सोयाबीन (Soybean) सेहत के लिए हानिकारक है। लेकिन अन्य बहुत सारे लोग यह मानते हैं कि सोयाबीन में भरपूर मात्रा में प्रोटीन और अन्य खनिज पदार्थ पाए जाते हैं, जो कि सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। इस वजह से आज के इस लेख में हम आपको सोयाबीन के फायदे के बारे में बताने वाले हैं। लेकिन आपके जानकारी के लिए हम आपको सोयाबीन के नुकसान और इसका कैसे उपयोग करना चाहिए, इसके बारे में भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं, जो कि काफी महत्वपूर्ण है।

सोयाबीन के फायदे, नुकसान और उपयोग

ज्यादातर बॉडीबिल्डर्स लोग सोयाबीन का सेवन करते हैं। क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। इसके अलावा सोयाबीन डायबिटीज, वेट लॉस और कैंसर जैसी बीमारियों से बचाव करने के लिए भी उपयोग किया जाता है, ऐसा मानना है।

सोयाबीन के फायदे, नुकसान और उपयोग

सोयाबीन में विटामिन बी कॉन्प्लेक्स और विटामिन ए के अलावा भरपूर मात्रा में मिनरल्स भी पाया जाता है। इसके अलावा सोयाबीन में मैगनीज, फास्फोरस, कॉपर, पोटेशियम, जिंक, सेलेनियम और आयरन भी प्रचुर मात्रा में होता है। खाने के लिए भी सोयाबीन बहुत स्वादिष्ट होता है और इससे अच्छे-अच्छे स्वादिष्ट व्यंजन बनाए जा सकते हैं।

सोयाबीन के फायदे – Soybean Benefits in Hindi

सोयाबीन के फायदे

1. स्वस्थ हड्डियां

सोयाबीन में मौजूद फाइटोएस्ट्रोजन हड्डियों को मजबूत बनाते हैं और सोयाबीन में एस्ट्रोजन हार्मोन को सुरक्षित रखने की क्षमता होती है। इस वजह से बहुत सारे लोग हड्डियों के लिए सोयाबीन का सेवन करते हैं।

2. बॉडीबिल्डिंग में फायदेमंद

जैसा कि आपको पता होगा कि सोयाबीन में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, जो कि दुबले पतले लोगों के लिए और बॉडीबिल्डिंग करने वालों के लिए मसल बनाने के लिए अच्छा होता है। इस वजह से बिना नॉनवेज खाए आप सोयाबीन से बॉडी बना सकते है।

3. हृदय को रखें स्वस्थ

हृदय संबंधित सभी रोगों से छुटकारा पाने के लिए सोयाबीन का सेवन जरूरी है। क्योंकि इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट सूजन और ह्रदय रोग को रोकने की क्षमता रखते हैं और रक्त संचार को प्रभावित करने वाले सभी कणो को यह नियंत्रित करते हैं।

4. वजन घटाएं

सोयाबीन का सेवन करके थोड़ा सा व्यायाम करने पर शरीर में मौजूद सभी चर्बी गायब हो जाती है। क्योंकि सोयाबीन में मौजूद प्रोटीन की वजह से यह शरीर में पचने के लिए ज्यादा एनर्जी खर्च करता है, जिससे फैट बर्न होने लगता है।

5. नियंत्रित कोलेस्ट्रॉल

अनियंत्रित कोलेस्ट्रॉल की वजह से शरीर में बहुत सारी बीमारी घर कर सकती है। लेकिन सोयाबीन खाने से इसमें मौजूद आइसोफ्लेवोन्स आपकी कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित रखता है। इस वजह से अपनी डाइट में जरूर सोयाबीन को शामिल करें।

सोयाबीन के नुकसान – Soybean Side Effects in Hindi

सोयाबीन के नुकसान

  • अधिक सोयाबीन के सेवन से पुरुषों में स्पर्म की गुणवत्ता में कमी आ सकती है। क्योंकि इसमें फाइटोएस्ट्रोजन पाया जाता है।
  • राजीव दीक्षित की माने तो हमें सोयाबीन का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • क्योंकि सोयाबीन में मौजूद प्रोटीन मनुष्य के पेट में पचन होने वाली चीज नहीं है, जिससे बहुत सारी बीमारी हो सकती है।
  • यौन क्षमता भी प्रभावित हो सकती है।
  • अधिक मात्रा में सोयाबीन का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ सकता है।
  • महिलाएं यदि सोयाबीन का सेवन करे तो, हार्मोन संबंधी गड़बड़ी हो सकती है।

सोयाबीन के उपयोग – Soybean Uses in Hindi

Soybean Manchurian

सोयाबीन से बनने वाले बहुत सारे लजीज भारतीय व्यंजन है, जिससे आपको एक बार जरूर खाना चाहिए।

  • सोयाबीन आलू करी
  • सोयाबीन मंचूरियन
  • सोयाबीन बिरयानी
  • सोयाबीन खीर
  • सोयाबिन हलवा
  • सोयाबीन कटलेट

ऊपर दिए गए सोयाबीन के उपयोगों के अलावा, अन्य बहुत सारे स्वास्थ्य तरीके हैं, जिनसे आप सोयाबीन से फायदा उठा सकते हैं।

  • सोयाबीन के बीजों की सब्जी बनाएं।
  • सोयाबीन के बीजों की तेल बनाकर उपयोग करें।
  • सोयाबीन का सूप बनाकर पीना अति उत्तम है।
  • इसके अलावा सोयाबीन को अंकुरित करके भी खाया जा सकता है।
  • सोयाबीन के दूध का उपयोग किया जा सकता है।

आखरी बात

सोयाबीन के फायदे जानने के बाद मैंने तुरंत बाजार से 1 किलो सोयाबीन लेकर उसका सोयाबीन मंचूरियन बनाया था, जो कि काफी स्वादिष्ट बना था। यह मैंने इसलिए किया था क्योंकि काफी दिनों से मेरा वेट गिरता जा रहा था, जिस वजह से मैं काफी दुबला पतला हो गया था।

अब मैंने सोयाबीन खाना शुरू कर दिया है, जो कि बॉडीबिल्डिंग और वजन बढ़ाने के लिए काफी मददगार है। इसी तरह सोयाबीन के और भी अन्य चमत्कारी फायदे है, जिसके बारे में हम आगे इसमें अपडेट करते रहेंगे।

इन्हें भी पढे:

Write a Comment

close