अपनी राशि कैसे जाने?

भारत में पुरातन काल से हिंदू लोग अपने बच्चे को उसके कुंडली के अनुसार नाम रखते थे। जैसे कि जब वह भी जा जन्म लेता है तो, उस समय चंद्रमा जिस राशि में होता है, उसी राशि के अनुसार उस बच्चे के नाम का पहला अक्षर निर्धारित किया जाता था। उसके बाद उस अक्षर से ही उसको नाम रखा जाता था।

लेकिन आजकल भारत में कुछ गिने-चुने शहरों और गांव में यह प्रक्रिया अभी भी चल रहे हैं। और इसमें बहुत ज्यादा महत्व दिया जाता था। लेकिन अब बहुत सारे लोगों को इसकी महत्व की जानकारी प्राप्त नहीं हो पाई है। लेकिन अगर आप भी भारतीय संस्कृति पर विश्वास रखते हैं तो, कभी भी अन्य अक्षर से अपने बच्चे का नाम निकाले।

लोग अपने बच्चे के उज्जवल भविष्य के लिए बच्चा पैदा होने पर पंडित से बच्चे के नाम का पहला अक्षर पता करते थे, फिर पंडित बच्चे की जन्म तिथि जानकर उसकी कुंडली में चंद्रमा की स्थिति को ठीक तरह से जांच करके बच्चे का नाम रखता था, जिसे हम जन्म नाम भी कहते हैं।

लेकिन आज हम अपने नाम के पहले अक्षर से अपनी राशि पता करने का तरीका और अन्य जानकारी जैसे की राशि कैसे पता करें और राशि कैसे जाने इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं।

राशि कितनी होती हैं?

भारतीय ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राशिया कुल 12 होती है और वह इस प्रकार है:

  1. मेष (Aries)
  2. वृषभ (Taurus)
  3. मिथुन (Gemini)
  4. कर्क (Cancer)
  5. सिंह (Leo)
  6. कन्या (Virgo)
  7. तुला (Libra)
  8. वृश्चिक (Scorpius)
  9. धनु (Sagittarius)
  10. मकर (Capricornus)
  11. कुंभ (Aquarius)
  12. मीन (Pisces)

राशि कैसे जाने?

राशि कैसे जाने

1. मेष

चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम मेष राशि से संबंधित होते हैं। मेष राशि का चिन्ह भीड़ होता है। इस राशि का स्वामी मंगल है और यह राशि चक्र में प्रथम स्थान पर आता है।

2. वृषभ

ई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम वृषभ राशि से संबंधित होते हैं। वृषभ राशि का चिन्ह बैल है। इस राशि का स्वामी शुक्र है और यह राशि चक्र में द्वितीय राशि है।

3. मिथुन

का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम मिथुन राशि से संबंधित होते हैं और मिथुन राशि का चिन्ह नारी व पुरुष का युग्म होता है। इस राशि का स्वामी बुध है और यह राशि चक्र में तृतीय राशि है।

4. कर्क

ही, हू, हे, हो, डा, डी, डु, डे, डो इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम कर्क राशि से संबंधित होते हैं और कर्क राशि का चिन्ह केकड़ा है। कर्क राशि का स्वामी चंद्रमा है और यह राशि चक्र में चौथी राशि है।

5. सिंह

मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम सिंह राशि से संबंधित होते हैं। और सिंह राशि का चिन्ह शेर होता है। इस राशि का स्वामी सूर्य है और यह राशि चक्र में पांचवी राशि है।

6. कन्या

ढो, प, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम कन्या राशि से संबंधित होते हैं और कन्या राशि का चिन्ह एक लड़की नौका में बैठी हुई है। इस राशि का स्वामी बुध है और यह राशि चक्र में छठी राशि है।

7. तुला

र, री, रू, रे, रो, ता, ति, तू, ते इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम तुला राशि से संबंधित होते हैं और तुला राशि का चिन्ह एक पुरुष हाथ में तराजू लिए है। इस राशि का स्वामी शुक्र है और यह राशि चक्र में सातवीं राशि है।

8. वृश्चिक

तो, न, नी, नू, ने, नो, या, यि, यू इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम वृश्चिक राशि से संबंधित होते हैं और वह चेक राशि का चिन्ह बिच्छू है। इस राशि का स्वामी मंगल है और यह राशि चक्र में आठवीं राशि है।

9. धनु

य, यो, भा, भि, भू, ध, फा, ढ, भे इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम धनु राशि से संबंधित होते हैं। धनु राशि का चिन्ह धनुष लिए एक पुरुष और साथ में घोड़ा है। इस राशि का स्वामी बृहस्पति है और यह राशि चक्र में नववी राशि है।

10. मकर

भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम मकर राशि से संबंधित होते हैं। मकर राशि का चिन्ह मृग या हिरण है। मकर राशि का स्वामी शनि है और यह राशि चक्र में दसवीं राशि है।

11. कुंभ

गू, गे, गो, स, सी, सू, से, सो, द इन अक्षरों से शुरू होने वाले नाम कुंभ राशि से संबंधित होते हैं। कुंभ राशि का चिन्ह कलश लिए एक पुरुष है। इस राशि का स्वामी शनि है और यह राशि चक्र में 11वीं राशि है।

12. मीन

दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, च, ची 3 अक्षरों से शुरू होने वाले नाम मीन राशि से संबंधित होते हैं। मीन राशि का चिन्ह दो मछलियां है इस राशि का स्वामी बृहस्पति है और यह राशि चक्र में 12वीं राशि है।

बहुत सारे ज्ञानियों का यह भी मानना है कि राशि के द्वारा हम उस व्यक्ति की सभी जानकारियां जान सकते हैं, जैसे कि उस व्यक्ति का रवैया, चरित्र, गुण, अवगुण और व्यवहार।

आजकल के लोग अपने बच्चों के लिए कोई भी फैंसी या फिर बॉलीवुड और क्रिकेट सितारों का नाम बिना सोचे समझे डाल देते हैं। लेकिन ज्योतिष शास्त्र में भी विज्ञान छुपा हुआ है, जिसके अनेक फायदे हैं।

Note: दोस्तों अगर आप अपने राशि और राशि से जुड़ी अन्य जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो, नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी जन्म तारीख, जन्म समय और जन्म स्थल की जानकारी कमेंट करें।

जैसे कि: (09 / 05 / 1998)
             रात 8:30 बजे
             स्थल: कोल्हापुर (महाराष्ट्र)

धन्यवाद।

यह भी पढ़े:

Write a Comment