Pilot कैसे बने: Step-by-Step Guide (2020)

डॉक्टर, इंजीनियर और pilot बनना बहुत बड़ा सपना है, जो हर बच्चा देखता है। लेकिन भारत में pilot बनना इतना आसान नहीं है। लेकिन बहुत मुश्किल भी नहीं है। भारत में pilot बनने के लिए पढ़ाई और ट्रेनिंग के लिए बहुत सारे पैसे लगते हैं। इसके बारे में जानकारी हम आपको नीचे देने वाले हैं।

Pilot बहुत सारे तरह के होते हैं, जैसे कि आप सभी लोगों को पता होगा पब्लिक फ्लाइट जो चलाता है उसे commercial pilot कहते हैं और जो आर्मी वालों के जेट वगैरा जलाता है, उसे Air Force pilot कहते हैं, जैसे कि हमारे अपने अभिनंदन, जिन्होंने पाकिस्तान में जाकर उनके F-16 pilot को गिराया था।

लेकिन आज मैं आपको commercial pilot कैसे बने, इसके बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि एलिजिबिलिटी के बारे में भी जानकारी प्रदान करने वाला हूं।

Pilot कैसे बने?

Pilot कैसे बने

भारत में commercial pilot बनने के लिए आपको नीचे दिए गए सभी स्टेप्स को फॉलो करना होगा, जैसे की 12वीं पास करना और license लेना। और अच्छे कॉलेज में भी एडमिशन लेना होता है।

  1. 12वीं पास करें

    अगर आप सभी दसवीं पढ़ रहे हैं या फिर 12वीं में है तो साइंस कोर्स लेना आवश्यक है। क्योंकि commercial pilot बनने के लिए कॉमर्स और आर्ट्स की योग्यता नहीं है। इस वजह से दसवीं के बाद साइंस स्ट्रीम में पढ़ाई करें और उसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री और गणित के विषय होना जरूरी है और अंत में आपको 12वीं में कम से कम 50% मार्क्स लाने होंगे।12वीं पास करें

  2. फ्लाइंग स्कूल में एडमिशन लीजिए

    जब बात एक बार दसवीं के बाद 12वीं में साइंस ले लेते हैं, तो अच्छी खासी पढ़ाई करके 12वीं पास कर ले और 50% माफ हासिल कर लीजिए उसके बाद आपको फ्लाइंग स्कूल में एडमिशन लेना होगा, जिसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम भी लिखना होता है। और इस एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना जरूरी है।फ्लाइंग स्कूल में एडमिशन लीजिए

  3. Student Pilot License के लिए अप्लाई करें

    DGCA यानी डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन, गवर्नमेंट ऑफ इंडिया के अंदर जिस भी कॉलेज में एडमिशन लेने के बाद आपको एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होगा। उसके बाद आपको student pilot license (SPL) के लिए अप्लाई करना होता है। लेकिन इसके लिए आपकी उम्र कम से कम 16 साल के होने चाहिए और वहां पर आपको ट्रेनिंग करनी पड़ेगी और मेडिकल एग्जामिनेशन भी आपका होगा।Student Pilot License के लिए अप्लाई करें

  4. Private Pilot License के लिए अप्लाई करें

    जब आप SPL मतलब student private license के लिए अप्लाई कर के license लेते हैं, तो उसके बाद आपको अगला कदम यह उठाना है कि private pilot license के लिए अप्लाई करना होगा, जिसे PPL भी कहा जाता है। लेकिन यह license पाने के लिए आपको कुछ परीक्षाएं भी देनी पड़ेगी जो कि काफी मुश्किल है।Private Pilot License के लिए अप्लाई करें

  5. Commercial Pilot License के लिए अप्लाई करें

    Student private license और private pilot license के लिए ट्रेनिंग पूरी करने के बाद आपको तुरंत commercial pilot license के लिए आवेदन भरना होगा, जिसे CPL भी कहा जाता है। इस license को पाने के लिए कुछ एग्जाम कुछ टेस्ट आपको देने पड़ते हैं। इन्हें क्लियर करने के बाद आपको एक commercial pilot license मिलेगा, जिसके बाद आप एक commercial pilot कहलाते हैं।Commercial Pilot License के लिए अप्लाई करें

भारत में pilot बनने के लिए कुछ ज्यादा काम करने की जरूरत नहीं है। बस ऊपर दिए गए 5 स्टेप को फॉलो करके आप आसानी से commercial pilot बन कर पब्लिक फ्लाइट उड़ा सकते हैं।

लेकिन आपको बता दें कि इन सभी 5 स्टेप्स को पूरा करने में करीब 30 लाख तक का खर्च आ सकता है। क्योंकि इसमें बहुत सारे ट्रेनिंग देनी होती है, कॉलेज में एडमिशन लेना होता है।

यह भी पढ़े:

Write a Comment