सिर्फ 5 मिनट में Paytm KYC Verify करें

आजकल भारत में बहुत सारे लोग ऑनलाइन लेनदेन कर रहे हैं और इसमें ज्यादातर लोग Paytm वॉलेट एंड्राइड ऐप का इस्तेमाल करते हैं। Paytm के अनेक फायदे हैं, लेकिन कुछ समय से लोगों को Paytm से जुड़ी एक बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो गई है। और उस समस्या का नाम Paytm KYC है।

ऐसा हम आपसे इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि अब Paytm से जुड़ी बहुत सारे फायदों का लुफ्त उठाने के लिए KYC वेरीफाई करना बेहद जरूरी हो गया है। लेकिन बहुत सारे लोगों को Paytm KYC वेरीफिकेशन करने में, अपडेट करने में और अपने Paytm अकाउंट से आधार कार्ड लिंक करने में बहुत सारी परेशानियां से गुजरना पड़ रहा है।

Paytm KYC कैसे करें

लेकिन बिना जानकारी के Paytm KYC वेरीफाई करना इतना आसान नहीं है। लेकिन आज के इस लेख के जरिए हम आपको Paytm KYC कैसे करें, इस सवाल का जवाब बड़े आसान तरीके से नीचे देने वाले हैं। जैसे कि Paytm KYC वेरीफाई, अपडेट व आधार कार्ड लिंक करने के लिए कौन से डॉक्यूमेंट चाहिए इसके बारे में भी जानकारी देंगे।

Paytm KYC क्या हैं?

KYC का अंग्रेजी में full form Know Your Customer है और हिंदी में इसका मतलब अपने ग्राहक को जाने होता है। KYC का उपयोग वित्तीय लेनदेन के लिए किया जाता है और अपने ग्राहक को वेरीफाई करने के लिए इसको मुख्य रूप से इस्तेमाल किया जाता है।

बैंक, बीमा कंपनी और अन्य संस्थाएं अपने ग्राहकों को जानने के लिए और अन्य सेवाओं को प्रदान करने से पहले आईडी वेरीफिकेशन और एड्रेस वेरीफिकेशन KYC द्वारा करते हैं, जिससे अनेक फायदे ग्राहक को होते हैं।

बहुत सारे लोगों को KYC बनाने के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट के बारे में जानकारी नहीं होती है। लेकिन हम आपको बता देना चाहते हैं कि भारत सरकार ने आधार कार्ड को KYC के लिए आवश्यक दस्तावेज घोषित किया है। लेकिन इसके अलावा आप पान कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट और मनरेगा जैसे डाक्यूमेंट्स से भी अपने KYC वेरीफिकेशन करा सकते हैं।

Paytm KYC के विभिन्न प्रकार:

वित्तीय लेनदेन के लिए KYC का इस्तेमाल किया जाता है। जिस वजह से Paytm भी तीन तरह के KYC अपने ग्राहकों के लिए उपलब्ध करवाता है।

  1. Min KYC
  2. Self KYC
  3. Full KYC

Min KYC कैसे करें?

  • Paytm ऐप को ओपन करें और KYC आइकॉन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद IDs में से अपनी ID सिलेक्ट करें।
  • अब आपको आईडी नंबर और आईडी में लिखा हुआ नाम डालना होगा।
  • कंफर्म करने के लिए चेक मार्क पर क्लिक करें और सबमिट कर दीजिए।
  • बधाई हो, आपका self KYC वेरीफिकेशन हो चुका है।

Self KYC और Aadhaar Based KYC कैसे करें?

  • Paytm एप्लीकेशन को ओपन करें और फिर से KYC आइकन पर क्लिक करें।
  • अपना आधार नंबर डाल दीजिए।
  • रजिस्टर मोबाइल नंबर पर आ चुके ओटीपी को भरे।
  • कंफर्म पर क्लिक करें।
  • इसके बाद अपनी सभी महत्वपूर्ण जानकारी भरिए और सबमिट पर क्लिक करें।
  • बधाई हो, अब आपका Aadhaar Based KYC हो चुका है।

Full Paytm KYC कैसे करें (2020)

कुछ ही समय पहले भारत के सुप्रीम कोर्ट के नए आदेश के अनुसार अब आधार Based KYC प्रक्रिया को हमेशा के लिए बंद कर दिया गया है और अब वैकल्पिक व्यवस्था बनाई गई है। इस वजह से अब नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके full Paytm KYC कंप्लीट करने का तरीका समझ लीजिए।

1. नजदीकी KYC सेंटर ढूंढे

Paytm KYC center

सबसे पहले अपने Paytm ऐप को ओपन करें और नजदीकी KYC सेंटर का पता करें। आप अपने Paytm ऐप की मदद से अपने शहर या फिर गांव में मौजूद नजदीकी Paytm KYC सेंटर का पता कर सकते हैं, जिसके बाद नजदीकी KYC सेंटर की सभी जानकारी जैसे कि फोन नंबर और पता आपको मिल जाएगा। या फिर इस लिंक को खोल कर अपने एरिया का पिन कोड डालें।

2. जरूरी डाक्यूमेंट्स लेकर जाए

एक बार जब आपको आपके नजदीकी KYC सेंटर का पता लग जाता है तो, वहां पर जाने से पहले जरूरी गवर्नमेंट अप्रूव्ड आईडी प्रूफ डॉक्युमेंट्स को लेकर जाए जैसे कि,

  • वोटर आईडी 
  • ड्राइविंग लाइसेंस 
  • पासपोर्ट 
  • मनरेगा जॉब कार्ड

3. KYC सेंटर जाए

एक बार जब आप सभी महत्वपूर्ण चीजों को इकट्ठा कर लेते हैं तो, सभी डाक्यूमेंट्स को KYC सेंटर लेकर जाए, इसके साथ अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और स्मार्टफोन भी लेकर जाना होगा। वहां पर ऑथराइज्ड एजेंट सभी प्रक्रिया शुरू कर देगा और आपसे आईडी प्रूफ आपका नाम माता-पिता की जानकारी पूछेगा।

4. ओटीपी शेयर करें

ऑथराइज्ड एजेंट के पास सभी जरूरी डाक्यूमेंट्स और जानकारी प्राप्त होने की बात वह प्रक्रिया शुरू कर देगा। उसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा। उस ओटीपी को एजेंट के साथ शेयर करके कन्फर्मेशन करना होगा।

5. KYC Complete

Paytm KYC Verified

जब एक बार आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी आ जाती है तो, उसे दर्ज करने के बाद आपके Paytm अकाउंट में KYC वेरीफिकेशन कंप्लीट हो जाता है। जिसके बाद आप एक वेरीफाइड अकाउंट होल्डर बन जाते हैं और अनेक फायदों का आनंद उठाने के लिए उपलब्ध हो जाते हैं।

Paytm KYC के फायदे

Paytm KYC सेंटर में जाकर 5 मिनट के अंदर आप अपने KYC वेरीफाई कर के full KYC कंप्लीट कर सकते हैं और इसी के साथ बहुत सारी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं जैसे कि,

  • वॉलेट द्वारा खर्च करने की सीमा समाप्त हो जाती है।
  • आप अपने Paytm ऐप की मदद से Paytm बैंक में बचत खाता खुलवा सकते हैं।
  • आप अपने Paytm की मदद से अन्य बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।
  • Paytm की मदद से अन्य वॉलेट में भी पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।
  • अब अपने Paytm वॉलेट में पैसे रखने की सीमा ₹10,000 से बढ़कर ₹1,00,000 तक हो जाती है।

आशा करता हूं कि आपको हमारा यह देख काफी पसंद आया होगा और इससे आपको KYC कंपलीट करने में मदद मिली होगी। हमेशा ऐसे ही पोस्ट पढ़ने के लिए और उपयोगी जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट पर आपका हमेशा स्वागत है।

यह भी पढ़े:

Write a Comment