आजकल कई सारे दिनों मे हमने बहुत बार मुचल फंड का नाम सुना है जैसे कि टीवी देखते वक्त एडवरटाइजमेंट के द्वारा या फिर अपने दोस्तों से बात करते वक्त। इसी वजह से आज के इस लेख में हम आपको म्यूच्यूअल फंड क्या है, म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें और म्यूचुअल फंड से पैसे कैसे कमाए, इसके बारे में संक्षिप्त में इस लेख में जानकारी प्रदान करने वाले हैं।

अब भारत में हर किसी को शेयर बाजार और Mutual Fund के बारे में बताएं तो वह इन सभी बातों को सुनकर घबरा जाते हैं। शेयर बाजार में निवेश करने के बजाय Mutual Fund में सुरक्षित निवेश कैसे कर सकते हैं और क्यों करना चाहिए इसके बारे में भी हम आपको समझाएंगे।

Mutual Fund क्या है?

ढेर सारे निवेशकों के द्वारा जमा किए गए सारे धनराशि को Mutual Fund कहा जाता है और इन सभी पैसे को एक फंड में डाल दिया जाता है। इसके बाद Mutual Fund कंपनीज के फंड मैनेजर निवेशकों के द्वारा जमा किए गए इन सभी पैसे को विभिन्न वित्तीय साधनों में निवेश करने में जुट जाता है। इससे पहले Mutual Fund के पैसे को अच्छी तरीके से निवेश करने के लिए प्लानिंग भी करती है। इस वजह से Mutual Fund इन सभी पैसों को बहुत सारे जगह पर निवेश करता है, जिससे रिस्क और रिटर्न पहले से निर्धारित किए जाते हैं।

 म्यूचल फंड के प्रकार:

  1. Equity Mutual Fund
  2. Debt Mutual Fund
  3. Hybrid Mutual Fund
  4. Solution Oriented Mutual Fund

1. Equity Mutual Fund

यह स्कीम निवेशक के लिए बड़ी जोखिम भरी हो सकती है। क्योंकि इस स्कीम में निवेश को द्वारा जमा किए गए पैसे को सीधे शेयरों में निवेश किया जाता है। अगर आप छोटी अवधि में इस स्कीम का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो जोखिम भरा हो सकता है। लेकिन आप लंबी अवधि के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपको बेहतरीन रिटर्न्स मिलेगा। इस वजह से आपका रिटर्न उस शेयर का प्रदर्शन तय करेगा।

2. Debt Mutual Fund

इसमें आप छोटे अवधि के वित्तीय लक्ष्य पूरे करने के लिए निवेश कर सकते हैं। क्योंकि 5 साल से कम अवधि के लिए स्कीम में निवेश करना बहुत ही शानदार परिणाम दे सकता है। यह Mutual Fund बैंक के फिक्स डिपॉजिट और शेयरों की तुलना में बहुत कम जोखिम वाली होती है और बेहतर रिटर्न प्रदान करती है।

3. Hybrid Mutual Fund

इस स्कीम में निवेश करने से पहले निवेशकों को अपने जोखिम का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है। इसके अलावा यह Mutual Fund इक्विटी और डेब्ट दोनों में निवेश करता रहता है और इस Mutual Fund को 6 कैटेगरी में बांटा गया है।

4. Solution Oriented Mutual Fund

यह Mutual Fund खास रिटायरमेंट स्कीम और बच्चों के शिक्षा जैसे लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए बनाई गई है। इस स्कीम में निवेश करने के लिए पांच या फिर 5 साल से अधिक समय के लिए निवेश करना होगा।

म्यूचुअल फंड से पैसे कैसे कमाए?

जब आप Mutual Fund में पैसा जमा कर देते हैं, तब Mutual Fund वाले कई तरीके से इस धनराशि को निवेश करते हैं। और उनका सबसे प्रमुख पैसा शेयर करने की जगह शेयर मार्केट होता है। शेयर मार्केट के अलावा Mutual Fund वाले गोल्ड और अन्य कमोडिटी में निवेश करते हैं। इसके अलावा जैसे कि मैंने आपको बताया Mutual Fund में कई प्रकार होते हैं, जैसे के डेब्ट फंड, इक्विटी फंड और बैलेंस्ड फंड। जैसे कि मैंने ऊपर बताया हाइब्रिड फंड और बैलेंस्ड फंड एक ही है और सबसे अधिक विविधता हमें इक्विटी फंड्स में देखने को मिल सकता है।

Mutual Fund में निवेश करने के लिए आप किसी Mutual Fund की वेबसाइट में जाकर सीधे निवेश कर सकते हैं। इसके अलावा आप Mutual Fund में निवेश के लिए सहायता के लिए एडवाइजरी की सेवा का लुफ्त उठा सकते हैं। अगर आप एडवाइजरी की मदद से निवेश करना चाहते हैं, तो आप Mutual Fund के स्कीम के रेगुलर प्लान में निवेश कर पाएंगे।

म्यूच्यूअल फंड से पैसे कैसे कमाए

लेकिन अगर आपको सीधे Mutual Fund में निवेश करना है, तो आप उसमें Mutual Fund के डायरेक्ट प्लान में निवेश कर सकते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि अगर आप Mutual Fund में सीधे निवेश करते हैं, तो आपको किसी को भी कमीशन नहीं देना पड़ेगा। इस वजह से लंबे समय की अवधि के बाद आपको मुचल फंड से बहुत बढ़िया रिटर्न मिलता है। लेकिन मैं आपको बता दूं कि इस तरीके से Mutual Fund में निवेश करने के बाद आपको खुद ही इस का रिसर्च करके काम करना पड़ेगा और इससे आपको बाद में दिक्कत आ सकती है।

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए कुछ जरूरी बातें

  • म्यूच्यूअल फंड घर बैठे खरीदने के लिए आप एंड्रॉयड एप्स का इस्तेमाल कर सकते हैं, जैसे कि Groww, Upstox, MyCams इत्यादि।
  • इन एंड्राइड ऐप का इस्तेमाल करने के लिए पैन कार्ड और अन्य डाक्यूमेंट्स का होना जरूरी है।
  • म्यूचल फंड से सबसे आसान तरीके से पैसे कमाने का रास्ता है SIP। इसके लिए बहुत सारे पैसे की जरूरत नहीं पड़ती है, केवल ₹500 से आप म्यूचल फंड का शुरुआत करके अपने हिसाब से समय निर्धारित कर सकते हैं।
  • SIP आपको यह PF या अन्य स्कीम के मुकाबले अधिक लाभ देता है। क्योंकि यदि आप 30 साल के लिए ₹500 इसमें निवेश करते हैं, तो 30 साल बाद लगभग आपको 17.5 लाख रुपए फंड मिल सकते हैं। इसी तरह यदि आप 15 सो रुपए 30 साल के लिए निवेश करते हैं, तो 12% के हिसाब से आपको 53 लाख मिल जाएंगे।
  • लंबे समय के लिए निवेश करना सबसे बेहतर माना गया है, जिस वजह से आप भी इक्विटी फंड में पैसा निवेश करके लॉन्ग टर्म का सोच सकते हैं।
  • इक्विटी फण्ड कंपनियों पर पैसा निवेश करती है, जिस वजह से ज्यादा अच्छा मुनाफा मिलता है।
  • यदि आप कम समय के लिए पैसा निवेश करना चाहते हैं, तो 3 से 5 साल के लिए आप हाइब्रिड फंड में अपने पैसे को निवेश कर सकते हैं, क्योंकि कम समय के लिए यह अच्छा रिटर्न प्रदान करता है।

दोस्तों यह है Mutual Fund क्या है, म्यूच्यूअल फंड से पैसे कैसे कमाए, इसकेेेे बारे में छोटा सा ब्लॉग पोस्ट। इसके बारे में और जानकारी प्राप्त करने के लिए अपना सवाल लिखें। मैंं आपकी हेल्प करने की कोशिश करूंगा।

FAQs

SIP क्या है?

SIP का अर्थ Systematic Investment Plan हैं, जिसे हिंदी में ” तरीके से इन्वेस्टमेंट” कहा जाता है। SIP के तहत आप 100 से लेकर ₹500 तक म्यूचल फंड में इन्वेस्ट कर सकते हैं और निर्धारित समय से पहले फिर से वापस पैसे निकाल दे सकते हैं।

सबसे अच्छा म्यूच्यूअल फंड कौन सा है?

ICICI Prudential Technology Fund – Direct Plan – Growth यह सबसे बेस्ट म्युचुअल फंड प्लान माना गया है।

सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाला म्यूचल फंड कौन सा है?

पिछले 10 साल में सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाला म्यूच्यूअल फंड स्कीम SBI Small Cap fund है, जिसने 10 सालों में 25% रिटर्न दिया है, इसके मुताबिक 1 लाख रुपए का ₹900000 रिटर्न मिलते हैं।

सबसे अच्छा एसआईपी कौन सा है?

आइसीआइसीआइ प्रूडेंशियल ब्लूचिप फंड लार्ज कैप स्टॉक्स में पैसे लगाता है और इसके पिछले समय के ट्रैक रिकॉर्ड के हिसाब से ₹10000 की एसआईपी को 5 साल में 6.29 लाख रुपए बनाता है, जिस वजह से यह सबसे अच्छा एसआईपी है।

म्यूचुअल फंड में कितना रिटर्न प्राप्त होता है?

औसतन म्यूचुअल फंड में 10 से लेकर 12 फ़ीसदी तक रिटर्न प्राप्त हो सकता है

इन्हें भी पढ़े:

Share.

4 Comments

  1. म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) एक ऐसी कंपनी है जो कई निवेशकों से धन प्राप्त करती है और स्टॉक, बॉन्ड, और अल्पकालिक ऋण जैसी प्रतिभूतियों में धन का निवेश करती है।

Leave A Reply