आपने दरियाई घोड़े को देखा होगा, यह देखने में काफी मजेदार और शांत स्वभाव के लगते हैं। लेकिन असल में यह बहुत ही खतरनाक होते हैं, जो अपने मालिक को भी मार सकते हैं। दरियाई घोड़े को अंग्रेजी में हिप्पोपोटामस कहा जाता है, जो कि विशालकाय जानवर है और इनका रंग भूरा होता है और इनके चार छोटे छोटे पैर होते हैं। ज्यादातर समय दरियाई घोड़े कीचड़ या पानी में गुजरता है, जिस वजह से इन को अर्ध जलीय जानवर भी कहते हैं।

    दरियाई घोड़े के बारे में जानकारी Information About Hippopotamus in Hindi

    Information About Hippopotamus in Hindi

    नाम: दरियाई घोड़ा (Hippopotamus/Hippo)
    वैज्ञानिक नाम: हिप्पोपोटामस एंफीबियस
    जीवनकाल: 40 वर्ष
    भोजन: शाकाहारी प्राणी
    प्रकार: स्तनधारी
    वजन: 1.4 से 4 टन

    दरियाई घोड़े की रोचक जानकारी Facts of Hippopotamus in Hindi 

    1. हाथी और गेंदों के बाद दरियाई घोड़े धरती में रहने वाले तीसरे सबसे बड़े जानवर है। इनका वजन लगभग डेढ़ हजार से 3200 किलोग्राम तक होता है।
    2. जब कभी भी हिप्पो को जम्हाई लेते हुए या फिर हंसने की आवाज आते हुए देखते हैं तो समझ जाए कि यह खतरे की घंटी है। क्योंकि दरियाई घोड़ा बहुत ही आक्रामक जानवर होता है और उस समय वह कभी भी आप पर हमला कर सकता है।
    3. विशालकाय शरीर की वजह से दरियाई घोड़े को पानी में तैरना नहीं आता है। इस वजह से इनको दरियाई घोड़ा कहा जाता है, क्योंकि इन्हें पानी में रहना पसंद होता है।

    4. बिना सांस लिए पानी के अंदर बहुत देर तक दरियाई घोड़े रह सकते हैं और आगे बढ़ने के लिए अपने पैरों का सहारा लेकर जमीन को धक्का देते हुए आगे बढ़ते हैं।

    5. प्रकृति ने दरियाई घोड़े को इस तरह बनाया है कि वह पानी में रह सकता है। क्योंकि इनके नाक, कान, आंख शरीर के सबसे ऊपरी हिस्से में रहते हैं, जिस वजह से पानी में आधा डूब कर भी यह सभी काम कर सकते हैं, जैसे कि देखना और सुनना।नदी में दरियाई घोड़ा

    6. हिप्पोपोटामस या दरियाई घोड़ा शाकाहारी जानवर है और एक समय में लगभग 50 से 60 किलो तक का चारा आसानी से खा सकता है और शाम के समय यह पानी से बाहर निकाल कर घास खाना पसंद करता है।सब्जी खाता हुआ दरियाई घोड़ा

    7. दरियाई घोड़े के दो सबसे नुकीले और लंबे दांत होते हैं जो कि 50 सेंटीमीटर तक हो सकते हैं और जब कभी भी इनके इलाके में किसी जीव का प्रवेश करने पर यह उन पर हमला कर सकते हैं।
    8. एक समय था जब उप सहारा अफ्रीका में बड़े तादाद में दरियाई घोड़े पाए जाते थे। लेकिन स्थान के नुकसान और बड़ी संख्या में शिकार की वजह से दरियाई घोड़ों की आबादी में बहुत गिरावट आ गई है और अब केवल पूर्वी अफ्रीकी देशों में ही इनकी आबादी सीमित हो गई है।
    9. ऐसा कहा जाता है कि व्हेल मछली और दरियाई घोड़े का बहुत ही करीबी रिश्ता है। इसके अलावा कई वैज्ञानिक यह भी कहते हैं कि सूअर से इनका दूर का रिश्ता हो सकता है।
    10. दरियाई घोड़े के शरीर के ऊपर के हिस्से की चमड़ी इतनी मोटी होती है कि यह बुलेट प्रूफ की तरह काम करती है, जिस वजह से बहुत सारे शिकारी इनकी निचले हिस्से पर गोली मारते हैं और इनका शिकार करते हैं। लगभग इनकी शरीर की चर्बी 6 सेंटीमीटर यानी 2 इंच तक हो सकती है।
    11. हिप्पो का शरीर बहुत भारी होता है, लेकिन फिर भी 48 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दरियाई घोड़ा दौड़ सकता है।
    12. हिप्पोपोटामस झुंड में रहना पसंद करता है, आप एक समय में 25 से 35 दरियाई घोड़े को एक साथ कीचड़ में डुबकी लगाते हुए देख सकते हैं।दरियाई घोड़े का झुंड
    13. दरियाई घोड़ा मांस नहीं खाता है, लेकिन फिर भी यह अफ्रीका का सबसे खतरनाक जानवर कहलाता है, क्योंकि यह किसी को भी मार सकता है।
    14. दरियाई घोड़ा एक स्तनधारी जीव है, जिसका दूध का रंग गुलाबी होता है।
    15. दरियाई घोड़े अपने मुंह को लगभग 180 डिग्री तक खोल सकते हैं।
    16. दरियाई घोड़े इतने शक्तिशाली होते हैं और इनके जबड़े में इतनी शक्ति होती है कि मछली पकड़ने वाली नाव को भी आसानी से चबाकर टुकड़े-टुकड़े कर सकते हैं और ऐसा कहा जाता है कि कई बार ऐसी घटनाएं हो चुकी है।
    17. मादा हिप्पोपोटामस को Cow, नर हिप्पोपोटामस को Bull और इनके शिशु को Calf कहते हैं।
    18. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि दरियाई घोड़े की झुंड का नेतृत्व एक वयस्क मादा करती है।
    19. मादा दरियाई घोड़े का शरीर लगभग 25 साल की उम्र के बाद बढ़ना बंद हो जाता है, लेकिन नर दरियाई घोड़े उम्र भर बढ़ते रहते हैं।
    20. एक बार में माताजी दरियाई घोड़ा केवल एक बछड़े को जन्म देती है, लेकिन कई बार ऐसा देखा गया है कि उन्होंने जुड़वा बच्चे को भी जन्म दिया है।

    Also Read:

    दरियाई घोड़े की जानकारी (Facts About Hippopotamus in Hindi) पढ़कर आपकी राय क्या है इसके बारे में आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं।

    Share.

    Leave A Reply

    close