गोटू कोला के फायदे, नुकसान और उपयोग – Gotu Kola Benefits, Side Effects & Uses

गोटू कोला एक आयुर्वेदिक औषधि है, जिसे ब्राह्मी बूटी या मण्डूकपर्णी और अंग्रेजी में Centella asiatica कहां जाता है। इस जड़ी बूटी को बहुत सारे कामों के लिए उपयोग किया जाता है। जिस वजह से आज के इस लेख में हम आपको गोटू कोला के फायदे, नुकसान और उपयोग के बारे में सभी महत्वपूर्ण और जरूरी जानकारी आपको प्रदान करने वाले हैं।

गोटू कोला के फायदे, नुकसान और उपयोग

गोटू कोला के फायदे, नुकसान और उपयोग

गोटू कोला खाने में थोड़ा कड़वा लगता है। लेकिन हर दिन इसके 1 पत्ते को सुबह-सुबह खाने से हमारे शरीर में अनेक फायदे पहुंचते हैं। जिस वजह से कोंकण प्रदेश के लोग इसे आज भी सेवन करते हैं। खास तौर पर गोटू कोला का उपयोग दिमाग की शक्ति बढ़ाने के लिए किया जाता है और आयुर्वेद के ग्रंथों में भी इसका उल्लेख किया गया है। आजकल के लोगो के लिए गोटूकोला का सेवन करना जरूरी हो गया है। क्योंकि इससे सभी मानसिक बीमारी ठीक हो सकती है।

गोटू कोला के फायदे – Gotu Kola Benefits in Hindi

गोटू कोला के फायदे

1. ध्यान बढ़ाएं

आजकल की जनरेशन के लोगों को ध्यान लगाने में बहुत मुश्किल का सामना करना पड़ता है। हर दिन दूध के 2 ग्राम साथ गोटू कोला के चूर्ण को मिलाकर खाने से ध्यान लगाने की क्षमता और सतर्कता बढ़ेगी।

2. अनिद्रा से राहत

गोटू कोला का सेवन करने से मस्तिष्क में ऑक्सीडेटिव तनाव को यह कम करता है और कोशिकाओं को फिर से जीवित करके मानसिक ऊर्जा को पुनर्स्थापित करता है। जिस वजह से हमें अनिद्रा से राहत मिलती है। क्योंकि इसमें सोपोरीफिक नामक गुण पाया जाता है।

3. चिंता को रखें दूर

मानसिक चिंता को दूर करने के लिए आयुर्वेद में गोटू कोला का उल्लेख किया गया है। जटामांसी, शंखपुष्पी और मुक्ता पिष्टी के साथ गोटूकोला का सेवन करने से जो मानसिक कार्यों को सुधरता है और हमें चिंता से राहत मिलती है।

4. मिर्गी में उपयोगी

इलायची के बीज, कुलंजन और वच जैसे जड़ी बूटियों के साथ गोलू कोटा का सेवन करने से मिर्गी के मरीजों को सबसे ज्यादा फायदा होता है। इसके अलावा जिन लोगों को बार-बार बेहोशी का सामना करना पड़ता है, उनके लिए भी यह तरीका असरदार पाया गया है।

5. बौद्धिक क्षमता बढ़ाए

आमतौर पर मानसिक क्षमता या फिर बौद्धिक क्षमता बढ़ाने के लिए लोग बादाम का सेवन करते हैं। लेकिन इससे भी ज्यादा फायदा होता है, अगर हम हर दिन गोटू कोला का एक पत्ता खाली पेट खाएं। गोटू कोला के चूर्ण को घी और दूध के साथ मिलाकर खाने से भी सबसे ज्यादा फायदा होता है।

गोटू कोला के नुकसान – Gotu Kola Side Effects in Hindi

गोटू कोला के नुकसान

बड़े लोगों का कहना है कि गोटू कोला का सेवन करने से मनुष्य को कोई भी हानि नहीं होती है। लेकिन डॉक्टरी परामर्श के बिना और नियंत्रित मात्रा में इसका सेवन करेंगे तो हमारे शरीर को बहुत सारे नुकसानो का सामना करना पड़ सकता है, जिनके बारे में जानकारी नीचे दी गई है।

  • त्वचा को नुकसान हो सकता है, जैसे की जलन और एलर्जी।
  • सिर दर्द और पेट खराब की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • गोटू कोला का ज्यादा सेवन करने से चक्कर आने की भी संभावना बढ़ती है।
  • कुछ लोगों का कहना है कि गोटू कोला का ज्यादा सेवन करने से नींद अधिक आने लगती है।
  • गर्भावस्था के दौरान सेवन करने से गर्भपात हो सकता है।

गोटू कोला के उपयोग – Gotu Kola Uses in Hindi

गोटू कोला के उपयोग

  • गोटू कोला का चूर्ण बनाकर दूध के साथ लेने से ज्यादा फायदा पहुंचता है।
  • हर दिन सुबह खाली पेट एक पत्ता जरूर खाएं।
  • गोटू कोला का अर्क के रूप में भी सेवन किया जाता है।
  • चेहरे पर लगाने के लिए आप गोटू कोला का पेस्ट बनाकर भी लगा सकते हैं।

आखरी बात

ऑनलाइन भी आपको गोटू कोला का पत्ता या फिर पौधा मिल जाएगा। लेकिन घर पर अगर आप इसको उगाते हैं, तो आपको सबसे ज्यादा फायदा होगा। गोटू कोला के पौधे कुछ ही समय में बढ़ने लगते हैं, जिस वजह से हर दिन आप इसके पत्ते का सेवन कर सकते हैं।

मैं हर दिन इसके पत्ते का सेवन ध्यान बढ़ाने के लिए करता हूं और कुछ ही दिनों में मुझे इसका असर देखने भी मिला है। अगर आप भी चिंता और अनिद्रा से परेशान है, तो इसका सेवन जरूर कीजिए।

इन्हें भी पढ़े:

Write a Comment

close